भारत दशकों तक चीन से आगे रहेगा

भारत दशकों तक चीन से आगे रहेगा
हार्वर्ड विश्वविद्यालय के एक नए अध्ययन में कहा गया है कि भारत वैश्विक वृद्धि के स्तंभ के रूप में उभरा है और दशकों तक चीन से आगे रहेगा

हार्वर्ड विश्वविद्यालय के सेंटर फॉर इंटरनेशनल डेवलपमेंट (सीआईडी) (Center for International Development - CID) के वृद्धि अनुमानों के अनुसार कई कारणों से 7.7 प्रतिशत की औसत वृद्धि दर के साथ 2025 तक तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्थाओं में शीर्ष पर बना रहेगा। सीआईडी के शोध में कहा गया है कि वैश्विक वृद्धि का केंद्र पिछले कुछ साल में चीन से पड़ोसी भारत की ओर स्थानांतरित हुआ है। आगामी दशक में यह कायम रहेगा।

अध्ययन में कहा गया है कि आज की तारीख तक भारत ने जो क्षमताएं हासिल की है, उनके मद्देनजर वह विविध क्षेत्रों में उतरने को लेकर बेहतर स्थिति में उसकी तेज वृद्धि की संभावनाएं कायम रहेंगी।

रिपोर्ट में कहा गया है कि भारत ने अपने निर्यात आधार का विविधीकरण किया है और इसमें रसायन, वाहन और कुछ इलेक्ट्रॉनिक्स सहित अधिक जटिल क्षेत्रों में शामिल किया है।

रिपोर्ट कहती है कि प्रमुख पेट्रोलियम अर्थव्यवस्थाएं एक संसाधन पर निर्भर रहने का प्रभाव झेल रही हैं।


(समाचार अपडेट - 10 जुलाई, 2017 ई.)

Comments

Popular from HindiAliens.com

नासा के हब्बल टेलीस्कोप ने एक ग्रह पर पानी की बूंदे खोजीं

हिन्दी दिवस - भाषा, बोली, लिपि, व्याकरण, साहित्य

अच्छी नींद के लिए खाएं लहसुन

इस सदी के अंत तक वायु प्रदूषण से 2 लाख 60 हजार मौतों की संभावना जताई गई है

इस सदी के अंत तक पृथ्वी का तापमान दो डिग्री बढ़ेगा

Computer Fundamentals - Introduction of Computers and Definition of Computers

अवसाद में फायदेमंद है योग